स्वास्थ्य मंत्रालय ने CoWIN ऐप जारी किया, यहां रजिस्ट्रेशन कराने के बाद होगा वैक्सीनेशन; अभी ऐप स्टोर पर नहीं आया



साल 2021 की शुरुआत कोविड वैक्सीन की गुड न्यूज के साथ हुई है। कोविशील्ड और कोवैक्सिन’ नाम की वैक्सीन को मंजूरी मिल चुकी है। ऐसे में लोगों तक इस वैक्सीन को पहुंचाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक ऐप जारी कर दिया है। वैक्सीनेशन के लिए तैयार किए गए इस ऐप का नाम कोविन (CoWIN) है। कोविन ऐप की मदद से वैक्सीन डिलीवरी की रियल टाइम मॉनिटरिंग में मदद मिलेगी। ऐप के जरिए सरकार वैक्सीनेशन हो चुके लोगों का डेटा सुरक्षित रख पाएगी।

इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद भी लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। हालांकि, अभी ये ऐप गूगल प्ले स्टोर या एपल ऐप स्टोर पर उपलब्ध नहीं है। कुछ रिपोर्ट के मुताबिक, अभी इस ऐप के प्रोडक्शन का काम पूरा नहीं हुआ है। ऐसे में यूजर्स इसे डाउनलोड करने की गलती भी न करें।

क्या है कोविन ऐप?
कोविन (कोविड-19 वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क), eVIN (इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क) का अपग्रेडेड वर्जन है। एप्लिकेशन का काम पूरा होने के बाद इसे गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर पर यूजर्स के लिए फ्री में उपलब्ध कराया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने साफ किया है कि कोरोना वैक्सीन के टीके लोगों को 3 चरणों में लगाए जाएंगे। इनमें पहले चरण में सभी फ्रंटलाइन हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स को शामिल किया गया है। दूसरे चरण में आपातकालीन सेवाओं से जुड़े लोगों शामिल हैं। आखिर में गंभीर स्थिति वाले लोगों को टीका लगाया जाएगा।

कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस
कोविन ऐप पर वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा। फिलहाल ऐप इन्स्टॉल नहीं कर पाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसके रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस कुछ इस तरह की होगी।

  • कोविन की ऑफिशियल वेबसाइट पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन के लिए फोटो और आईडी की जरूरत होगी।
  • आईडी में वोटर आईडी, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट और पेंशन डॉक्युमेंट का इस्तेमाल कर पाएंगे।
  • रजिस्ट्रेशन के दौरान अपने मोबाइल नंबर की जानकारी भी देनी होगी।
  • रजिस्ट्रेशन होते ही SMS के जरिए वैक्सीनेशन की डेट, टाइम और जगह दी जाएगी।

कोविन ऐप के 5 मॉड्यूल
इस ऐप से वैक्सीनेशन की प्रोसेस, एडमिनिस्ट्रेटिव एक्टिविटीज, टीकाकरण कर्मियों और उन लोगों के लिए एक मंच की तरह काम करेगा, जिन्हें वैक्सीन लगाई जाना है। इसमें 5 मॉड्यूल दिए हैं। जिसमें प्रशासनिक मॉड्यूल, रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल, वैक्सीनेशन मॉड्यूल, लाभान्वित स्वीकृति मॉड्यूल और रिपोर्ट मॉड्यूल शामिल है।

  • प्रशासनिक मॉड्यूल: वे लोग जो वैक्सीनेशन इवेंट का संचालन करेंगे। इस मॉड्यूल के जरिए वे सेशन तय कर सकते हैं, जिसके जरिए टीका लगवाने के लिए लोगों और प्रबंधकों को नोटिफिकेशन के जरिए जानकारी मिलेगी।
  • रजिस्ट्रेशन मॉड्यूल: उन लोगों के लिए होगा जो टीकाकरण कार्यक्रम के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवाएंगे।
  • वैक्सीनेशन मॉड्यूल: उन लोगों की जानकारियां को वेरिफाई करेगा, जो टीका लगवाने के लिए अपना रजिट्रेस्शन करेंगे और इस बारे में स्टेटस अपडेट करेगा।
  • लाभान्वित स्वीकृति मॉड्यूल: इसके जरिए टीकाकरण के लाभान्वित लोगों को मैसेज भेजे जाएंगे। इससे क्यूआर कोड भी जनरेट होगा और लोगों को वैक्सीन लगवाने का ई-सर्टिफिकेट भी मिलेगा।
  • रिपोर्ट मॉड्यूल: इसके जरिए टीकाकरण कार्यक्रम से जुड़ी रिपोर्ट तैयार होंगी। जैसे, टीकाकरण के कितने सेशन हुए, कितने लोगों को टीका लगा, कितने लोगों ने रजिस्ट्रेशन के बावजूद टीका नहीं लगवाया आदि।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


CoWIN App to Be Official Vaccine App for India: All You Need to Know

https://www.bhaskar.com/rss-feed/5707/

You missed